भोपाल चौक बाज़ार के सर्राफा व्यापारी के साथ हुई डकैती का पर्दाफाश - Mann Samachar - Latest News, breaking news and updates from all over India and world
Breaking News

Thursday, April 4, 2019

Mann Samachar

भोपाल चौक बाज़ार के सर्राफा व्यापारी के साथ हुई डकैती का पर्दाफाश

-बिहार के कुख्यात अंर्तराज्यीय 05 सदस्यीय डकैत गिरोह का भोपाल  पुलिस व्दारा पर्दाफाश:
   03 खतरनाक एवं शातिर आरोपी गिरफ्तार:


  दिनांक-30/03/19 की रात्रि 9.30 बजे भोपाल शहर के हृदय स्थल यूनानी शफाखाना के पास सराफा चौक भोपाल के एक बडे व्यापारी श्री जगमोहन अग्रवाल के ड्रायवर अब्दुल रहमान को लूटने के उद्देश्य से तीन गोली चलाकर गंभीर रुप से घायल कर दिया गया। फरियादी की रिपोर्ट प्राथमिक तौर पर कोतवाली भोपाल में अप.क्र.-96/19 धारा-307/34 भादवि एवं 25/27 आर्म्स एक्ट के तहत अपराध दर्ज कर विवेचना प्रारंभ की गई।

          इस मामले की गंभीरता को देखते हुए काफी बारीकी एवं सूझबूझ से मामले की विवेचना की गई। विवेचना के दौरान घायल ड्रायवर अब्दुल रहमान के कथन पर पाया गया कि अग्रवाल का बैग जो ड्रायवर के हाथ में था ड्रायवर के व्दारा उनकी प्रायवेट कार में घटना के ठीक पूर्व रख दिया गया था, वह बैग भी आरोपीगण ले गये हैं।आरोपीगण के बारे में चश्मदीद गवाह बताये कि उनकी संख्या 4 से 5 थी। साथ ही फरियादी व्दारा बताया गया कि एक व्यक्ति लम्बा तगडा गोरा जीन्स की पेन्ट एवं कत्थे रंग की फुल बांहो की शर्ट पहने था।दूसरा भी इसी के साथ काले रंग की शर्ट पहने कार के पास खडा था।तीसरा व्यक्ति बडे चैक की शर्ट पहने खडा हुआ था।ड्रायवर व्दारा यह भी बताया गया कि यह दुकान से निकला तभी एक व्यक्ति काले रंग की होन्डा शाईन लेकर दुकान के पास खडा था। ड्रायवर के बैग कार में रखते ही गोरे वाले उम्र करीब 25 साल जो व्यक्ति कत्थई रंग की शर्ट पहने था उसने ड्रायवर पर लगातार तीन- चार गोलिया चलाई जो ड्रायवर के कंधे पेट एवं कमर तथा हाथ में लगी ड्रायवर के शरीर से खून बहने लगा और गंभीर रुप से घायल हो गया जिसे तत्काल चिरायु अस्पताल में भर्ती कराया गया।

          पुलिस व्दारा तत्काल घटना स्थल पर पहुंचकर घटना स्थल से बुलेट के खोके एवं एक जिन्दा बुलेट जप्त किये गये एवं घटना स्थल के आसपास के लोगो से पूछताछ की गई जिन्होने घटना स्थल पर एक काले रंग की पल्सर पर दो व्यक्ति एवं दूसरी काले रंग की होन्डा शाईन पर दो अन्य व्यक्तियो का आना जाना बताया था।
               उपरोक्त अज्ञात आरोपियान व्दारा सर्राफा चौक इलाके जैसे भीडभाड एवं अत्यधिक व्यस्तम इलाके में डकैती की घटना घटित कर दी गई थी। इस सनसनी खेज घटना को देखते हुए तत्काल पुलिस महानिरीक्षक भोपाल झोन भोपाल श्री जयदीप प्रसाद साहब के व्दारा इस संगीन घटना का अतिशीघ्र पर्दाफाश करने एवं आरोपियान को गिरफ्तार करने के निर्देश दिये गये।

              भोपाल शहर के उप पुलिस महानिरीक्षक श्री इरशाद वली साहब व्दारा घटना की गंभीरता को देखते हुए तत्काल मौके पर पहुंचे एवं मौके पर उपस्थित अपने अधीनस्थ अधिकारियो एवं कर्मचारियो के साथ घटनास्थल का निरीक्षण किया। एवं भोपाल शहर के समस्त पुलिस अधिकारी/कर्मचारियो को लगातार सुबह-शाम समय-समय पर आवश्यक निर्देश दिये। उप पुलिस महानिरीक्षक श्री इरशाद वली साहब इस घटना के आरोपियान की तलाश पतासाजी हेतु अपने अधीनस्थ कोतवाली एवं क्राईम ब्रांच के स्टाफ के साथ साथ स्वंय के निर्देशन में आरोपियान की तलाश पतासाजी के रात-दिन प्रयास कर रहे थे।

            अज्ञात आरोपियो के फोटो टी.व्ही. के माध्यम से प्रसारित किये जा रहे थे एवं उनके फोटो जो घटना स्थल पर लगे कैमरो से प्राप्त हुये थे उन फोटो को शहर के सभी प्रकार के पूर्व अपराधी जेल में बन्द कैदी एवं आम जनता तथा  पुलिस के सहयोगियो को दिखाये जा रहे थे। फोटो के मिलान अनुसार लोगो व्दारा बताये गये करीब 100 संदेहीयान पूर्व लुटेरो,अन्य अडीबाजी गुण्डागर्दी करने वाले बदमाशान से पूछताछ की गई थी। लेकिन आरोपियान का पता नहीं लगा था। श्रीमान उप पुलिस महानिरीक्षक महोदय व्दारा घटना घटित करने वाले प्रत्येक आरोपी के लिए 20000-20000/- रुपये के इनाम की घोषणा की गई। सराफा एसोसिएशन भोपाल के व्दारा भी 01 लाख रुपये का इनाम देने की घोषणा की गई। कोतवाली पुलिस टीम एवं क्राईम ब्रांच की टेक्नीकल, दक्ष एवं एक्सपर्ट स्टाफ के लगातार किये गये प्रयासो से इस घटना का पर्दाफाश किया गया।
गिरफ्तार आरोपीगण का विवरण:-
01 कृत्यानंद तिवारी पिता ओम प्रकाश तिवारी उम्र-24 साल  निवासी ग्राम भद्रशीला थाना शिवसागर जिला रोहतास (बिहार) हाल-अब्दुल अलीम का मकान म.नं.220 ए जोनबास्को स्कूल के पास नवीन नगर थाना ऐशबाग भोपाल म.प्र.।(योजना बनाने वाला एवं सराफा दुकान की रैकी करने वाला। घटना में प्रयुक्त की गई एक पल्सर मोटर साईकिल काले रंग की जप्त
02 मनीष तिवारी पिता गोपाल तिवारी उम्र-22 साल निवासी ग्राम रामपुरा थाना चिनारी जिला रोहतास (बिहार) हाल अब्दुल अलीम का मकान म.नं.220 ए जोनबास्को स्कूल के पास नवीन नगर थाना ऐशबाग भोपाल म.प्र. (सराफा दुकान के पास मोटर साईकिल के साथ खडे रहकर अपने साथी को सराफा व्यापारी के दुकान से निकलने एवं दुकान बंद होने की सूचना देने वाला
03 अभय तिवारी पिता विंध्याचल तिवारी उम्र-18 साल निवासी ग्राम रामपुरा थाना चिनारी जिला रोहतास (बिहार) हाल अब्दुल अलीम का मकान म.नं.220 ए जोनबास्को स्कूल के पास नवीन नगर थाना ऐशबाग भोपाल म.प्र.
लूटा गया टिफिन एवं एक बैग जप्त)
👉🏻फरार आरोपियो का विवरण जिनकी तलाश में पुलिस पार्ट्री (बिहार)भेजी गई।
04 धीरेन्द्र उर्फ ठन ठन चौबे उम्र-24 साल निवासी ग्राम चिनारी थाना चिनारी रोहतास (बिहार)।घटना करने वाला
05 मणीरंजन चौबे पिता रमाकान्त चौबे उम्र-23 साल निवासी भद्रशीला थाना शिवसागर जिला रोहतास (बिहार)।
घटना को अंजाम देने वाला एवं ड्रायवर पर लगातार 3 फायर करने वाला
 घटना को अंजाम देने के लिए कृत्यानंद तिवारी व्दारा ओ.एल.एक्स. पर खरीदी 30000/- रुपये की पल्सर मोटर साइकिल, घटना के समय आरोपी मणिरंजन चौबे व्दारा चलाई गई गोली से टिफिन में लगी गोली हुई आरपार।
मामले का आरोपी कृत्यानंद तिवारी जो जिला रोहतास (बिहार) का रहने वाला है बर्ष 2014 से सागर इन्सटीटयूट से बी.फार्मा का डिप्लोमा किया पहली कक्षा से दसवीं तक मुम्बई के भोईसर तारापुर आशादीप विध्या मंदिर में पढा इसके पिता भोईसर बिराज प्रायवेट लिमिटेड में ड्रायवर थे यह आरोपी 6 माह पूर्व सराफा के श्री जगमोहन अग्रवाल की सराफा दुकान पर सोने की चैन खरीदने गया था दुकान की चमक धमक एवं काफी मात्रा में दुकान में उपलब्ध सोने चांदी के जेवरात को देखकर इसने उक्त सराफा व्यापारी को लूटने का मन वनाया घटना को कारित करने के पूर्व 2-3 बार इस दुकान को देखने आने जाने वाले रास्ते पर चलकर रैकी की बाद बिहार जाकर अपने साथियो को इस घटना को अंजाम देने के लिए तैयार किया।
दिनांक 27/03/19 को कृत्यानंद तिवारी अपने साथी मनीष तिवारी, अभय तिवारी,धीरेन्द्र चौबे उर्फ ठनठन एवं मणिरंजन के साथ कामायानी एक्सप्रेस से 10.30 बजे भोपाल रेल्वे स्टेशन आये एवं आटो से ऐशबाग थाना अन्तर्गत नवीन नगर स्थित म.नं.220 ए मकान मालिक अब्दुल अलीम के किराये के कमरे पर पहुंचे।दिनांक 28/03/19 को घटना को अंजाम देने के लिए कृत्यानंद तिवारी व्दारा ओ.एल.एक्स. पर 30000/- रुपये की पल्सर मोटर साइकिल जहांगीराबाद में खरीदी। जिसका उपयोग घटना घटित करने में किया गया।
1-घटना के समय प्रत्येक आरोपी की भूमिका -  मुख्य आरोपी एवं योजना बनाने वाला कृत्यानंद के साथ धीरेन्द्र चौबे काले रंग की पल्सर मोटर साईकिल पर थे एवं दूसरी मोटर साईकिल काले रंग की होन्डा शाईन पर मनीष तिवारी ,मणिरंजन चौबे व अभय तिवारी घटना दिनांक को घटना स्थल पर थे।

2-घटना घटित करने के उपरांत भागने के प्रयास एवं आरोपियान के हथियार छिपाने एवं स्वंय को पुलिस से बचने के प्रयास – घटना के समय  आरोपी कृत्यानंद तिवारी पल्सर मोटर साईकिल स्टार्ट करके घटना स्थल के 50 मीटर आगे खडा था तथा अन्य आरोपी मनीष तिवारी फरियादी व ड्रायवर के पीछे-पीछे आकर इनकी लोकेशन बता रहा था व अभय तिवारी पार्किग के पास खडे होकर आने जाने वालो पर निगाह रखा हुआ था।तत्समय धीरेन्द्र एवं मणिरंजन ने ड्रायवर अब्दुल रहमान से बैग छुडाने के लिए 4 फायर किये व उसे लूटकर मोटर साइकिलो से भाग गये।
3-आरोपियान का पूर्व रिकार्ड –तस्दीक किया जा रहा है।
4-शेष 2 आरोपियान की तलाश हेतु टीम रवाना है

Subscribe to this Website via Email :
Previous
Next Post »