झारखंड के दो जिलों के दो बैंकों से हथियारबंद बदमाशों ने लूटे 49 लाख रुपए - Mann Samachar - Latest News, breaking news and updates from all over India and world
Breaking News

Tuesday, February 7, 2017

Mann Samachar

झारखंड के दो जिलों के दो बैंकों से हथियारबंद बदमाशों ने लूटे 49 लाख रुपए

हजारीबाग/गिरिडीह. झारखंड के दो
जिलों हजारीबाद और
गिरीडीह में मंगलवार को कुल मिलाकर
49 लाख 50 हजार रुपए की लूट हुई।
पहली घटना,हजारीबाग के इलाहबाद
बैंक(इचाक ब्रांच)में हुई। यहां से 21 लाख 30 हजार लूटे गए।
दूसरी घटना,गिरिडीह के यूनियन बैंक
(बेंगाबाद ब्रांच)में हुई। यहां से 28 लाख रुपए लूटे गए। बैंक
स्टाफ और कस्टमर्स से मारपीट भी
की गई। पुलिस आरोपियों की तलाश कर
रही है। बिना नकाब के आए लुटेरे...
-हजारीबाग का इलाहाबाद बैंक सुबह जैसे
ही खुला 8 बदमाश घुसे। किसी ने
भी नकाब नहीं पहना था।
-आरोपियों ने बैंक स्टाफ और कस्टमर्स से मारपीट
की। बाद में कस्टमर्स को रूम में बंद कर दिया।
-इसके बाद कैशियर के पास मौजूद अमाउंट के अलावा लॉकर तोड़ा।
करीब 21 लाख रुपए लेकर आरोपी
फरार हो गए।
-आईविटनेस के मुताबिक,सभी बदमाशों के पास
हथियार थे। ये बाइक से बैंक पहुंचे। घटना के बाद
एसपी अनूप बिरथरे मौके पर पहुंचे। पुलिस बैंक के
सीसीटीवी
फुटेज के जरिए आरोपियों की पहचान
की कोशिश कर रही है।
गिरीडीह में भी
यही तरीका
-गिरीडीह के यूनियन बैंक ऑफ इंडिया
में भी हजारीबाग की लूट
का तरीका ही अपनाया गया।
-सुबह बैंक के खुलते ही 5 हथियारबंद बदमाश
बेंगाबाद ब्रांच में घुसे। स्टाफ और कस्टमर्स को बंधक बनाया।
करीब 28 लाख रुपए लूटकर फरार हो गए।
-इस दौरान बैंक में जो कस्टमर्स आ रहे थे,उन्हें बदमाशों ने
वॉशरूम में बंद कर दिया।
पुलिस ने क्या कहा?
-हजारीबाग एसपी अनूप बिरथरे ने
कहा-घटना में प्रोफेशनल्स क्रिमिनल्स का हाथ है। जांच में डॉग
स्कवाॅड की मदद ली गई है।
सीसीटीवी
फुटेज चेक किए जा रहे हैं। रास्तों को सील कर दिया
गया है। वाहनों की चेकिंग की जा
रही है। क्रिमिनल्स जल्द पकड़े जाएंगे।
-हजारीबाग रेंज के
डीआईजी भीमसेन
टूटी ने कहा-दोनों घटनाओं में पुलिस को
सीसीटीवी से
मदद मिल रही है। हजारीबाग का
सीसीटीवी
फुटेज बहुत क्लियर है। अपराधियों के चेहरे पहचान में आ
रहे हैं। गिरिडीह में घेराबंदी कर सर्च
ऑपरेशन चलाया जा रहा है। शक है कि आरोपी
बिहार की तरफ भागे होंगे। बिहार पुलिस से संपर्क
किया गया है।

Subscribe to this Website via Email :
Previous
Next Post »