संजीव बालियान मुलायम के मरने का समय आ गया है, सपा दफन हो जाएगी - Mann Samachar - Latest News, breaking news and updates from all over India and world
Breaking News

Sunday, January 29, 2017

Mann Samachar

संजीव बालियान मुलायम के मरने का समय आ गया है, सपा दफन हो जाएगी

मथुरा. केंद्रीय कृषि राज्यमंत्री संजीव बालियान
ने विवादित बयान दिया।
उन्होंने कहा,“मुलायम सिंह ने हमेशा
सांप्रदायिकता की राजनीति की। मैं उनसे
कहना चाहूंगा कि अब उनके मरने का समय आ गया
है। जीने का समय अब उनका रहा नहीं।
समाजवादी पार्टी में इसी चुनाव में दफन हो
जाएगी।”  बता दें कि बालियान पश्चिचमी यूपी
से आते हैं और उन्हें बड़ा जाट नेता माना जाता है।
सपा-कांग्रेस मिलकर यूपी को लूटना चाहते
हैं...
-मथुरा के छाता विधानसभा क्षेत्र में बीजेपी
कैंडिडेट चौधरी लक्ष्मी नारायण के पक्ष में रैली
के लिए पहुंचे बालियान ने यहां मीडिया से
बातचीत में ये कमेंट किया।
-बालियान ने कहा,'कांग्रेस ने केंद्र को लूटा है।
सपा ने उत्तर प्रदेश को लूटा है। अब बचे-खुचे उत्तर
प्रदेश को दोनों मिलकर लूटना चाहते हैं। यूपी में
हमारी सरकार बनी तो अपराधी या तो जेल में
होंगे या यूपी से बाहर।'
-'हमारी पहली ऐसी सरकार होगी,जो किसान
हितैषी सरकार होगी। हम किसान को उसके पैरों
पर खड़ा करेंगे।'
-बालियान ने राम मंदिर के मुद्दे पर कहा,'राम
मंदिर करोड़ों लोगों की आस्था का केंद्र है।
सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद कानूनी रूप से
बनेगा। प्रक्रिया को तेज किया जाएगा।'
बालियान को बर्खास्त करे बीजेपी
-सपा के राज्यसभा सांसद नरेश अग्रवाल ने
कहा,'इस तरह के गंदे और असभ्य बयान की उम्मीद
सिर्फ बीजेपी नेताओं से की जा सकती है।'
-'पीएम ने बहुत सोच समझकर इनको अपनी कैबिनेट
में शामिल किया है। अब खुद प्रधानमंत्री किस
तरह के होंगे,इसका अंदाजा लगाया जा सकता
है।'
-'सपा प्रधानमंत्री मोदी से मांग करती है कि
बालियान को मंत्री पद से बर्खास्त करते हुए
बीजेपी से बाहर किया जाए।'
कौन हैं संजीव बालियान?
-संजीव बालियान केंद्रीय कृषि राज्यमंत्री हैं और
मुजफ्फरनगर सीट से सांसद हैं। वेस्ट यूपी में
बालियान बड़े जाट नेता के तौर पर जाने जाते हैं।
-इस बार के विधानसभा चुनाव के लिए उन्हें स्टार
प्रचारक भी बनाया गया है।
-28 सितंबर 2013 को मुजफ्फनगर में भारतीय
किसान यूनियन और बीजेपी ने मिलकर
महापंचायत का आयोजन किया था।
-इस महापंचायत में शामिल होने के लिए
बालियान भी जा रहे थे,लेकिन पुलिस ने उन्हें
रास्ते में ही गिरफ्तार कर लिया था।
-इस मामले के बाद हिंसा हुई थी। बालियान का
नाम चर्चा में आ गया था।

Subscribe to this Website via Email :
Previous
Next Post »